Follow by Email

Sunday, 25 September 2016

दाता अपने नाम, भेजते रहिए डाटा-


डाटा जैसे अॉन हो, हे दाता भगवान।
प्राप्त परमगति झट करे, यह मूरख इंसान।
यह मूरख इंसान, ध्यान योगासन रोजा।
भूले धर्म विभेद, खुदा डाटा में खोजा।
परिजन स्वजन बिसार, चाहता है सन्नाटा।
दाता अपने नाम, भेजते रहिए डाटा।।

1 comment: