Follow by Email

Wednesday, 27 April 2011

प्लास्टिक की बोतलें ढलने लगीं

                    (1) 

भरते सियासत बोतलों में-काँच में 
करते सियासत महफिलों में-नाच में
'अन्ना' असर सॉलिड सियासतदां सुन-      
 हो   सके  न  अब  सियासत  जाँच  में   
                   (2)                    
दोस्ती थी बोतलों की,  काँच से
उठते रहे परदे हमेशा साँच  से 
प्लास्टिक की बोतलें ढलने लगीं 
दूर रहने लग पड़ी  वो आँच से     

No comments:

Post a Comment