Follow by Email

Friday, 5 April 2013

नर नरेन्द्र निर्दोष, बताये बैलट-जूरी-

गुजरात का कर्ज़ उतार दिया है अब देश का उतारूँगा.....
.
.इसके लिए किसका कत्ले-आम होगा????
रविकर की टिप्पणी 

मूरी गाजर से कटे, बटे घटे भूखंड |
हमलावर देते जला, सहे "गो धरा" दंड |

सहे "गो धरा" दंड, सिक्ख सैनिक बन जाते |
मचता कत्ले आम, जिन्हें "चौरासी" खाते |

नर नरेन्द्र निर्दोष, बताये बैलट-जूरी |
   पब्लिक का प्रतिकार, जंग रूकती तैमूरी ||

10 comments:

  1. सटीक और सच बात

    आग्रह है मेरे ब्लॉग में भी सम्मलित हों

    ReplyDelete
  2. बेहतरीन और लाजबाब,आभार आदरणीय.

    ReplyDelete
  3. बहुत खूब रविकर जी .

    ReplyDelete
  4. आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा आज रविवार (07-04-2013) के चर्चा मंच 1207 पर लिंक की गई है कृपया पधारें. सूचनार्थ

    ReplyDelete
  5. री गाजर से कटे, बटे घटे भूखंड |
    हमलावर देते जला, सहे "गो धरा" दंड |

    सहे "गो धरा" दंड, सिक्ख सैनिक बन जाते |
    मचता कत्ले आम, जिन्हें "चौरासी" खाते |

    नर नरेन्द्र निर्दोष, बताये बैलट-जूरी |
    पब्लिक का प्रतिकार, जंग रूकती तैमूरी ||
    शानदार व्यंग्य विडंबन राजनीतिक विद्रूप पर .

    ReplyDelete
  6. बधाई सात किलोग्राम तौल घटाने पर .इसे भी ट्राई करें चीनी के स्थान पर न्यूट्री वेल्यु स्टीविया इस्तेमाल करें .(एस टी ई वी आई ऐ बोले तो स्टीविया ,कुदरती सूखी हुई पट्टियां हैं ये जो एक चुटकी डालनी हैं उबलते पानी में चाय बनाते वक्त चीनी के स्थान पर .यह औषधीय वनस्पति चीनी से २५ - ३० गुना ज्यादा मीठी है .

    ReplyDelete