Follow by Email

Friday, 16 September 2011

अल्प एवं पूर्ण विराम के बिना --

सबसे बड़ी 
समस्या-
कांग्रेस 
बोले आतंकी 

भाजप जदयू 
बाम मोर्चा 
सी एम् के 
मन की 

महंगाई से 
पहले इससे 
अपनी 
जान बचा 

कई साल
से चालू इसकी 
कातिल 
नौटंकी 


बोलो कौन ?? मत रहो मौन ????

11 comments:

  1. बहुत खूब...सही कहा...

    ReplyDelete
  2. behtarin kya baat hai..badhayee aaur sadar pranam ke sath

    ReplyDelete
  3. आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार के चर्चा मंच पर भी की गई है!
    यदि किसी रचनाधर्मी की पोस्ट या उसके लिंक की चर्चा कहीं पर की जा रही होती है, तो उस पत्रिका के व्यवस्थापक का यह कर्तव्य होता है कि वो उसको इस बारे में सूचित कर दे। आपको यह सूचना केवल इसी उद्देश्य से दी जा रही है! अधिक से अधिक लोग आपके ब्लॉग पर पहुँचेंगे तो चर्चा मंच का भी प्रयास सफल होगा।

    ReplyDelete
  4. नेता का जाने...ई तो मरते नहीं महंगाई से। जानते हैं कि आतंक वाद से मर भी सकते हैं। ये नहीं जानते कि महंगाई ही से ही नक्सलवाद और आतंकवाद पनपता है।

    ReplyDelete
  5. रविकर जी ,हमारे आज के सन्दर्भ का अनुपम व्यंग्य .

    ReplyDelete
  6. अच्छा कटाक्ष है।

    ReplyDelete
  7. आभार इस प्रस्तुति और आपकी महत्वपूर्ण ब्लॉग दस्तक की .

    ReplyDelete
  8. बहुत खूब कहा है आपने ।

    ReplyDelete
  9. प्रिय रविकर जी बहुत खूब ...गूढ़ पहेली ...एक से बढ़ कर यहाँ ..क्या किसे बोले किसकी राह रोकें... जागो जनता जागो

    धन्यवाद

    भ्रमर ५

    ReplyDelete