Follow by Email

Friday, 8 June 2012

पाय पुराने ब्लॉग, करो उनकी भी चर्चा

"चर्चा मंच का प्रवेशांक और कुछ अद्यतन लिंक" (चर्चा मंच-904)



चर्चा की चर्चा चली, प्रस्तुत पोस्ट पुरान |
मई माह से छप रही, समझें नहीं सयान |
समझे नहीं सयान, बेस्ट चर्चाएँ शामिल |
आये कई बयान, असहमत पाठक बेदिल |
मगर पुरानी पोस्ट, पढो रविकर बिन खर्चा |
पाय पुराने ब्लॉग, करो उनकी भी चर्चा ||
 

9 comments:

  1. रहे पुराना ही भला,करे काम ढंग क्यार,
    नए-नए उड़ जायेंगे,फुदक-फदक दिन चार !!

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर....

    ReplyDelete
  3. आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    ReplyDelete
  4. चर्चा पर चर्चा, चर्चा की चर्चा मज़ेदार रहा।

    ReplyDelete
  5. चलो कुछ लिखे तो सही
    बहुत दिनों बाद दिखे तो सही ।

    ReplyDelete
  6. चर्चा बहुत जरुरी है.

    ReplyDelete
  7. चर्चा का महत्व बढाने के लिए चर्चा हो या फिर टांग खीचने के लिए यह भी स्पस्ट होना चाहिये |
    आशा

    ReplyDelete